May 21, 2024
Bhabhi Ki Chut Chudai

हेलो दोस्तों, आपकी रितिका आप सभी के लिए फिर से एक नई Hindi Sex Story लेकर आयी हूँ,
जो आप सभी की कामुकता ( Kamukta ) की सभी सीमा पार करके यौन संतुष्टि देगी।

ये कहानी अमित लिख रहे है। तो चलिए उनकी कहानी “इमरान हाश्मी स्टाइल में हॉट भाभी की चूत चुदाई ( Bhabhi Ki Chut Chudai )” पढ़ते है। 

जो मेरे बारे में नहीं जानता उनके लिए परिचय दे देता हूं।

हेलो दोस्तों मेरा नाम अमित है। मैं 30 साल का वर्किंग प्रोफेशनल हूं और दिल्ली में रहता हूं।

मैं पहले थोड़ा मोटू हो गया था। पर पिछले 6 महीने से रोज़ वर्कआउट करने के बाद।

अब मैं एकदम फिट हो गया हूं। थोड़ी सी तो एब्स भी दिखने लगी हैं और हथियार बड़े हो गए हैं।

इसे अब मुझे फीमेल अटेंशन भी मिलने लगा है, और मेरा कॉन्फिडेंस पहले से काफी बढ़ गया है।

वही चीज़ अगर कोई मोटा लड़का किसी लड़की को कहे।
जैसे कि “अरे आज तुम्हारी ड्रेस सेक्सी लग रही है।
” तो लड़की काफी गुस्सा हो जाएगी.

पर अब मैं किसी लड़की को कहूं, तो लड़कियां फ्लर्ट करती हैं।

बस इन्हीं सब कारणों की वजह से मैं आजकल थोड़ा ओवरकॉन्फिडेंट रहता हूं। ये Hindi Sex kahani अभी कुछ दिन पहले की है।

मेरी बड़ी भाभी ने अपने घर मुझे खाने पर बुलाया था, और केवल आत्मविश्वास से मेरी दुनिया ही बदल गई।

भाभी और भईया का एक छोटा बेटा है 2 साल का। भईया बिजनेसमैन हैं, अक्सर शहर से बाहर यात्रा करते हैं।

मेरी और भाभी की काफ़ी अच्छी बनती है, और एक ही तरह की फ़िल्में देखते हैं हम दोनों।

भाभी ने मुझे फोन कर के कहा,
“अमित, नेटफ्लिक्स पर ‘इमरान हाश्मी’ की नई फिल्म आई है,
आ जाओ फिल्म देखते हैं साथ में।”

मैंने कहा, “भाभी, लगता है ये तो मेरे और आप के बेस्ट हैं। क्योंकि आप इतनी हॉट और मैं इतना हैंडसम।
” भाभी हस दी और बोला कि जल्दी आ.

मेरी भाभी मुझसे 5 साल बड़ी हैं पर आज भी 25 से ऊपर की नहीं दिखती हैं।

गोरी त्वचा, पतली कमर, दर्द बड़े स्तन। और गांड जो बच्चा पैदा होने के बाद बहुत मस्त हो गई है।

मैं उनके घर पहुंचा तो उन्हें टीवी के सामने ही बैठने को बोला, सोफ़ा पे। तब तक वो बच्चे का दूध गरम करने लगी।

घर पर थी तो एक हल्के गुलाबी रंग की स्लीवलेस बनियान टी-शर्ट और सफेद पायजामा पहना हुआ था उन्हें।

हाय! क्या मस्त मोटी गांड ( Moti Gand ) का आकार आ रहा था उसके पजामे में उनका।

वो जैसे ही मुड़ी मैं घूर घूर के उनके पीछे देखने लगा। मुझे हमेशा से ही उनके जैसी एक बीवी चाहिए थी।

और हंसी मजाक में मैंने कई बार ये बात उनको कही थी।
“भाभी कोई आपकी जान पहचान में हो जो आपको जैसी दिखती हो तो प्लीज बताना मुझे।
” वो हमेशा हंस के कह देती है,
“मेरे जैसी तो सिर्फ मैं हूं।
” और दोस्तों वाकाई उनके जैसी तो सिर्फ वो ही थी।

खैर बच्चे के सोने के बाद, हम लोग फिल्म देखने बैठे। स्क्रीन पर थोड़ी ही देर में रणबीर और श्रद्धा की चुम्मा चाटी शुरू हो गई।

मैं थोड़ा मुंह टेढ़ा करके भाभी का रिएक्शन देखने के लिए मुड़ा।

पर भाभी ने तुरंत मुझे पकड़ लिया। कहती है,

“क्या देख रहे हो इधर मुड़ के? ये सब तो सामान्य है आज कल।”

मैंने कहा, “भाभी ये सब कहने की चीज़ है। आज भी इंडिया में लड़कियां इतनी फ्री नहीं हैं, कि पहली बार में ऐसा अफेयर कर ले। टाइम लगता है थोड़ा।”

भाभी बोली, “तुझे बड़ा पता है? क्यों ट्राई किया है क्या किसी पे?”

मैंने कहा, “भाभी, कोशिश तो नहीं की पर करने का मन बहुत है।”

भाभी ने पूछा, “किसपे?” तो मैं तुरंत हड़बड़ा के बोल पड़ा, “भाभी, एक बार क्या मैं आपको चुम सकता हूं?” भाभी एकदम से हस दी.

कहती है मुझसे, “कबसे चल रहा है तेरे दिमाग में ये सब?”

मैने कहा, “वो छोड़ो, मुझे थोड़ी सी फील लेनी है बस आपकी भाभी। आप चाहो तो आँखें बंद कर लूँगा, आप भी मुझे चुम लो अगर मन करे।”

मैंने भी जल्दबाजी में बोला. इतना कह के मैंने इंतज़ार नहीं किया। तुरतं उनके पास सोफ़ा पे खिस्का के उनको कस के पकड़ लिया।

उनसे पूछा कि, “भाभी आज इतनी हिम्मत कर ली है। प्लीज भईया को मत बताना, पर क्या करूं मुझसे रहा ही नहीं जाता एकदम अब। आप कृपया थोड़ा सा करने दो मुझे।”

भाभी ने मुझसे पीछे किया और मुस्कुरायी थोड़ी। बोली, “देवर जी लगता है आज ले के ही मानोगे। चलो हटो पीछे हो थोड़ा. मैं भी तो देखु क्या लेके आये हो?”

ये कहते ही उन्होंने मेरे पैंट के ऊपर से मेरा लंड पकड़ लिया। जो कि अब तक पूरा खड़ा हो चुका था। और थोड़ा सा प्री-कम जैसा ड्रिप भी हो रहा था।

मैंने फटाफट अपनी जींस, अपनी अंडरवियर के साथ ही नीचे कर दी और भाभी का हाथ उस पर रख दिया।

भाभी, ज्यादा समय बर्बाद न करते हुए, मेरे सामने घुटने पे बैठ गई। और हल्का सा लंड अपने मुँह में रख लिया।

अब वो अपनी जीभ से सारा प्री-कम चाटने लगी और धीमे धीमे लंड अंदर बाहर करने लगी।

मेरे होश उड़ चुके थे अब तक। जिस चीज का सपना मैंने पिछले कई साल से देखा था वो आज पूरा हो चुका था।

मेरी भाभी तो पूरी देसी रंडी निकली. अपनी टी-शर्ट अपने स्तन के ऊपर तक कर दी।

बाप रे उनके स्तन, एकदम गुलाबी निपल्स, काफी बड़े बड़े। स्तन यहीं कुछ 34 साइज के होंगे।

मैंने बाएं हाथ से उनका एक बूब्स पकड़ा और दाएं हाथ से उनके सर के बाल।

दोनों को कस के दबा के, उनका सर और तेजी से आगे पीछे करने लगा।

भाभी ने एकदम से थोड़ा दांत का इस्तमाल किया लंड पे।

तो मैंने तुरंत बालो से हाथ हटा के उनके मुंह पर एक थप्पड़ लगाया।

मैं बोला, “देखो भाभी आज आप मेरी रंडी हो, जैसा मुझे पसंद है वैसा ही होगा, समझी?”

भाभी के मुँह में अब भी आधा लंड घुसा हुआ था। और माथे पे बाल बिखरे थे, उन्हें अपना सर हां में हिलाया।

अब मैंने उनके बाल पकड़ के अपना लंड हल्के हल्के में अंदर बाहर करना शुरू किया।

फिर मैंने दोनों हाथ से उनका सारा पकड़ के ज़ोर ज़ोर से अंदर बाहर शुरू किया।

और एक मिनट के बाद जैसे ही मुझे लगा मेरा स्खलन होने वाला है, मुख्य अपना पूरा 7 इंच का लंड बाहर निकला।

और एक दहाड़ लगा के सारा का सारा पानी उनके चेहरे पर निकाल दिया।

थोड़ा कम उनके मुंह, आंख, बाल और थोड़े स्तन पर भी जा गिरा। जो भी लंड पे रह गया था वो मैंने अपने मुँह में घुसा के पूरा चटवाया।

मैं और भाभी, दोनों ही थक गए वही सोफे पर बैठ गए। मैने हस्ते हुए भाभी की और देखा. उनकी आँखें बंद पर होठों पे मुस्कान थी।

इससे आगे क्या हुआ वो हम फिर कभी किसी भाभी की चुदाई की कहानी ( Bhabhi Ki Chudai Ki Kahani ) में जानेंगे। 

ये xxxकहानी आप readxxstories.com पर पढ़ रहे थे। उम्मीद करता हूँ आप लोगो को पसंद आयी होगी। 

कहानी कैसी लगी कमेंट में ज़रूर बताये। मिलते अगले किसी दिलचस्प कहानी के साथ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Delhi Escorts

This will close in 0 seconds