July 9, 2024
Chacheri Bahan Ki Chudai

नमस्कार दोस्तों मैं रितिका अपने एक और Hindi Sex Story में आपका स्वागत करती हूँ। आप ये कहानी readxxstories.com पे पढ़ रहे है।

इस कहानी के लेखक है – अमित और xxxकहानी है एक अनोखी रात चचेरी बहन के साथ – Chacheri Bahan Ki Chudai

हेलो दोस्तो! मेरा नाम अमित है और मैं दिल्ली में रहता हूं।

इस कहानी में मैं आपको बताऊंगा कि कैसे मैंने अपनी चचेरी बहन के साथ सेक्स किया।

कहानी में जाने से पहले मैं आप लोगो को अपनी और मेरी बहन के बारे में कुछ बता दूं।

मेरी उमर 21 साल की है. मैं अभी दिल्ली के एक कॉलेज में मेडिकल की पढ़ाई कर रहा हूं।

मैं दिखने में गोरा हूं और मेरी हाइट 5’10” है। मेरा वजन लगभग 60 किलो है.

मैं अपने आप को शारीरिक रूप से फिट रखने के लिए रोजाना व्यायाम भी करता हूं और जिम भी जाता हूं।

मेरी बॉडी बहुत फिट है और मेरे 6-पैक एब्स भी हैं। मेरे लंड का साइज़ औसत जोकी 6.5 इंच है।

मेरी बहन का नाम नीतू है. वो अभी कॉलेज में है और उसकी उम्र 19 साल है।

वो भी देखने में गोरी है. उसकी हाइट 5’4″ होगी और वजन 52 किलोग्राम है।

उसकी कमर बहुत पतली है जो देखने में बहुत मनमोहक लगता है।

उसका फिगर इतना अच्छा है कि वो हर किसी के हवस की आग को बुझा सकती है। उसके स्तन भी कम उम्र में काफी बड़े हैं। उसका फिगर 32-28-30 है.

चलिए अब मैं आपको बताता हूं कि हमारे बीच सेक्स कैसे हुआ। हमारे बीच शुरुआत से काफी अच्छी बॉन्डिंग थी और हम अपने सीक्रेट्स एक दूसरे से शेयर भी करते थे।

मैं जब भी अपनी नानी के घर जाता था तो सबसे ज्यादा समय उसी के साथ खर्च करता था।

हमारे बीच में कभी आपस में सेक्स करने वाली बात हुई ही नहीं थी। मैंने भी उसके साथ ये करने का कभी नहीं सोचा था।

एक बार मेरे माता-पिता को एक शादी में शामिल होने घर से बाहर जाना था। लेकिन उन्हें मुझे ले जाना सही नहीं समझा।

मुझे नानी के घर पर छोरने का फैसला ले लिया। मेरी नानी का घर गाँव में है और वो काफी बड़ा है।

कभी-कभी बिजली के चले जाने पर अँधेरा होने पर वहा बहुत डर भी लगता है। वाह मेरे मामा, मामी, नाना, नानी और नीतू रहते हैं।

मुझे वहा छोरने के बाद मेरे माता-पिता की शादी अटेंड करने के लिए राजस्थान चले गए।

मामा और मामी भी मेरे माता-पिता के साथ शादी में शामिल होने गए थे।

2 दिन के बाद अचानक मेरी नानी की तबीयत खराब हो गई। उनको पेट में दर्द होने लगा।

उन्हें डॉक्टर से दिखाने के लिए नाना और नानी दोनों शहर के एक बड़े अस्पताल की तरफ चले गए।

सबने सोचा कि वो लोग सुबह को गए हैं और शाम तक दवा लेकर घर आ जाएंगे।

पर ऐसा नहीं हुआ. मेरी नानी के किडनी में स्टोन हो गया था और उन्हें ऑपरेशन करवाने के लिए रुकना पड़ा।

इधर मैं और नीतू घर में अकेले थे। ये खबर सुनते ही मेरे माता-पिता और नीतू के माता-पिता ने शादी अटेंड करने का प्लान कैंसिल कर दिया और घर आने का फैसला किया।

उन्होंने कॉल करके ये बताया कि उन्हें कल का टिकट मिल गया है और वो लोग कल शाम तक हमारे पास होंगे।

उन्हें कहा कि बस एक रात वहां बिना डरे गुजार लो। हमलोगो ने ओके कह कर कॉल कट कर दिया।

पर हम दोनों बहुत डरे हुए थे कि रात में हमें इतने बड़े घर में अकेला रहना पड़ेगा।

हमने सुबह का समय बातें करते तो काट लिया पर अब थी रात की बारी।

मैं बाहर जाकर होटल से खाना ले आया और हमने साथ में खाया। खाना खाने के बाद हमने कुछ देर और पढ़ाई की और फिर रात के करीब 10 बजे मुझे नींद आने लगी।

फिर हमने अपनी किताबों को बंद कर दिया और सारे खिड़की और दरवाजे बंद करके एक कमरे में सोने चले गए।

उस कमरे का बिस्तर बहुत छोटा था पर 2 आदमी के लिए काफी था। हमने एक ही चादर लिया क्योंकि हम बहुत डरे हुए थे,

और दोनों उसी में सोने लगे। हमने सोने की बहुत कोशिश की पर डर के मारे हमें नींद ही नहीं आ रही थी।

फिर हम बातें करने लग गए ताकि हमारा डर कम हो जाए और हमें नींद भी आ जाए।

बात करते-करते अचानक बिजली चली गई और अचानक एकदम अंधेरा हो गया। नीतू ज़ोर से चिल्लाई और झटके से मेरे से चिपक गई। जैसे ही वो मुझसे चिपकी उसके स्तन पर मेरा हाथ चला गया।

मैंने गलती से उसे दबा भी दिया। इत्तेफाक की बात ये भी है कि उसने गलती से मेरा लंड भी पकड़ लिया और मेरा खड़ा हो गया।

हम दोनो एक दूसरे को देखने लगे। मैंने उसके स्तन पर से अपना हाथ हटा लिया और उसने भी मेरे लंड से अपना हाथ हटा लिया।

हम कुछ देर तक चुप रहे और नीतू ने अपना चेहरा दूसरी तरफ कर लिया और वो सोने की कोशिश करने लगी।

पर वो इतनी ज्यादा डरी हुई थी कि वो खिसक-खिसक कर मेरे पास आने लगी और मेरे से दोबारा चिपक गई।

वो मेरे में इतनी ज्यादा घुस गई थी कि मेरा लंड उसकी गांड को छू रहा था।

उसका पीठ (पीछे) मेरे सीने को छू रहा था। मैंने भी उसके कमर पर अपना हाथ रखा और उसके दोनों टांगो के बीच में से अपना एक टांग घुसाया।

बिजली के चले जाने और चिपक-चिपक कर सोने के कारण मुझे गर्मी लगने लगी थी। तो मैंने अपनी टी-शर्ट उतार दिया था।

अब मैं धीरे-धीरे उसके टॉप के अंदर अपना हाथ घुसाने लगा। अब मैं धीरे-धीरे उसके बदन पर अपना हाथ फेर रहा था।

और उसकी नाभि में उंगली डाल कर गोल गोल घुमा रहा था। वो इसे बहुत एन्जॉय कर रही थी और कुछ बोल भी नहीं रही थी।

अब मैंने अपना लंड भी धीरे-धीरे करके उसके आस-पास सहलाने लगा और आगे पीछे करके सेक्स करने जैसा आनंद उठाने लगा।

कुछ देर नीतू के पेट पर हाथ फेरने के बाद मैं धीरे-धीरे अपना हाथ ऊपर की तरफ बढ़ने लगा। और उसकी ब्रा पर धीरे-धीरे हाथ फेरने लगा।

अब मैं आउट ऑफ कंट्रोल हो गया था. तो मैंने उसे झटके से अपनी तरफ घुमाया।

मैं उसके ऊपर चढ़ गया और उसे किस करने लगा। करीब 5 मिनट तक हम दोनों ने एक दूसरे को बेताबी से किस किया।

किस करते वक्त मेरा एक हाथ उसके चेहरे पर और दूसरा उसके स्तन पर था।

उसका एक हाथ मेरे चेहरे पर और दूसरा मेरे लंड पर था। किस करने के बाद मैंने उसे उठाया और अपने गोद में बैठा लिया।

उसका टॉप खोलकर उसके स्तनों को ब्रा के ऊपर से ही छूने लगा।

उसके बाद मैंने उसकी ब्रा का हुक खोला और तब मेरी आँखों के सामने आया बड़े स्तन!

मैंने उसका कमर पकड़ कर उसे कैसे अपने सीने से लगाया और उसके कंधे पर किस करने लगा। वो भी मेरे बालों पर हाथ फेरने लगी।

ये करने के बाद मैंने वापस उसे बिस्तर पर पटका। और धीरे-धीरे गर्दन से चुंबन करते हुए उसकी चूत पर चुंबन करना चालू कर दिया।

मैने फिर तुरंत उसका पैंट भी उतारा और फिंगरिंग करने लगा। और इस वक्त वो ज़ोर ज़ोर से विलाप करने लगी, क्योंकि हम पहली बार सेक्स कर रहे थे।

अब मैं खड़ा हो गया और वो बिस्तर पर नंगी बैठ गई। अब वो मेरा पैंट खोलने लगी. और तब उसके सामने आया मेरा लंड! उसने मेरे लंड को पकड़ा और ज़ोर ज़ोर से हिलाने लगी।

हिलाते हिलाते उसने मेरे लंड को अपने मुँह में रख लिया और मुझे ब्लोजॉब देने लगी।

कुछ देर तक ऐसा चला. फिर मैंने दोबारा उसको बिस्तर पर पटका और उसके ऊपर चढ़ गया और फिर उसे चूमने लगा।

उसके स्तन मेरे सीने से और मेरा लंड उसकी चूत से ज़ोर ज़ोर से टकरा रहे थे।

अब मैंने अपना लंड अपने हाथ में लिया और उसकी चूत में घुसा दिया। जैसे ही मैंने सेक्स करना चालू किया वो ज़ोर ज़ोर से दोबारा कराहने लगी।

मैं उससे कराहता हुआ देख रहा था और बहुत आनंद ले रहा था और सेक्स करते समय उसके स्तनों को बार-बार चूस रहा था।

करीब 7-8 मिनट बाद मेरा निकलने वाला था। तो मैंने तुरंत अपना लंड निकाल लिया और ज़मीन पर स्पर्म गिरा दिया ताकि वो प्रेग्नेंट ना हो जाए।

उसके बाद मैंने तुरंत उसको किस किया और उसके स्तन पर भी किस किया। और पीछे घुमा कर उसकी गांड पर भी ज़ोर से मारने लगा और फिर किस भी किया।

ये सब करने के बाद हम बाथरूम में चले गए और अपने आप को साफ किया।

फिर हमने आकर अपने कपड़े पहने और चारो तरफ़ सफ़ाई भी कर दी। कमरे में हमने एयर फ्रेशनर भी स्प्रे कर दिया।

इसके बाद हमारा डर भी ख़तम हो गया और हम थके हारे एक दूसरे को किस करके सो गए। और इस तरह हमने अपनी जिंदगी में पहली बार सेक्स किया!

Hindi Sex kahani कैसी लगी कमेंट में ज़रूर बताये। मिलते अगले किसी दिलचस्प कहानी के साथ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Delhi Escort

This will close in 0 seconds