May 21, 2024
Pornstar ki chudai ka maja

Readxstories के पाठकों को मेरा नमस्कार आज की कहानी पोर्नस्टार की चुदाई का मज़ा लिया और बचपन का सपना पूरा किया

दोस्तों मेरा नाम राहुल है और आज मैं आपको अपने जीवन की सेक्स फिल्मों का लाइव टेलीकास्ट बताने जा रहा हूं. इस पोर्नस्टार की चुदाई कहानी से मेरी जिंदगी में सेक्स का सफर शुरू हुआ.

अब मैं अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद नौकरी की तलाश में था. लेकिन काफी संघर्ष के बाद जब मुझे मन मुताबिक नौकरी नहीं मिली तो मैंने एक सस्ते होटल में मैनेजर की नौकरी करना शुरू कर दिया.

यह एक तृतीय श्रेणी का होटल था और अपने कमरों में आजकल के नये जमाने के लड़के-लड़कियों की हवस पूरी करने की जगह के रूप में मशहूर था। यह होटल एक संकरी गली में था.

नीचे लड़कियों का सामान बेचने वाली कई दुकानें थीं जो होटल में लड़कियों की आमद के लिए उपयुक्त थीं। दरअसल उस होटल में लड़के अपनी सेट की लड़कियों को लेकर आते थे.

हम उनके साथ सेक्स करने के लिए घंटे के हिसाब से कमरा लेते थे. उनमें कुछ पेशेवर लड़कियाँ भी आती थीं जो कभी-कभी मुझे उनकी सवारी का आनंद देती थीं।

यही ख़ुशी मुझे इस होटल में काम करने के लिए खींच लाई थी. जब मैं अपना गाँव का घर छोड़कर शहर आया तो रहने के लिए एक कमरे की ज़रूरत भी इसी होटल से पूरी हुई।

मतलब यह कि रहने, खाने, चोदने के अलावा मुझे इस होटल से पैसे कमाने की सुविधा भी मिल रही थी. इस होटल में मेरे साथ सिर्फ एक स्टाफ और था, उसका नाम मोहित था।

वह 24 घंटे होटल में भी रुकते थे। बाथरूम और अन्य सफ़ाई आदि के लिए कुछ कर्मचारी थे, जो अपना काम करके चले जाते थे। कमरों में बेडशीट आदि बदलने का काम रोजाना नहीं होता था.

उसके लिए तो मेरा दोस्त मोहित ही काफी था. मैंने अपनी कुर्सी के बगल में एक बिस्तर लगा रखा था. जब भी कोई काम नहीं होता तो मैं मोहित को बिठाकर
मैं सो जाता था।

या फिर जब भी मोहित को सोना होता तो वो अपना काम मुझ पर छोड़ कर सो जाता। हम सब मिलकर मालिक के लिए प्रतिदिन लगभग तीन हजार रुपये कमा लेते थे।

वह अपने स्वामी की सेवा के लिए किसी अच्छी दासी को माँगा करता था। जब मालिक की उम्र साठ के पार हो जाती थी तो उसे अपना लंड चुसवाने में ही मजा आता था.

यह लड़के-लड़कियों की अलग-अलग कमाई का जरिया भी था। मैं अक्सर किसी डरपोक दंपत्ति को पुलिस का भय दिखाकर और मौका पाकर हजार-दो हजार रुपये और वसूल लेता था।

तो मैं उसके साथ आने वाली लड़की पर भी हाथ साफ कर देता था. मैं उन सेक्सी जोड़ों की चुदाई के बारे में सोच कर अपना लंड हिलाता रहता था जो मेरे होटल में सेक्स के लिए आते थे।

एक रात मुझे मोहित से कुछ काम था और वो शराब पीकर कहीं सो रहा था, बहुत बुलाने पर भी उसका पता नहीं चला। उन दिनों मोबाइल फोन तो थे नहीं, इसलिए मैंने उसे ढूंढना शुरू किया.

वह होटल की छत से एक कमरे की बालकनी में मुझे दिखाई दिया। जैसा कि आप जानते हैं कि अधिकतर लड़के-लड़कियाँ होटल में सेक्स करने के लिए जाते हैं, इसलिए मैंने उसे आवाज़ लगाई और मेरे पास आने को कहा।

जब वो आया तो मैंने पूछा- वहां क्या कर रहा था? उन्होंने बताया कि उनके होटल के एसी रूम में जो कपल रुका हुआ था वो वहां जमकर सेक्स कर रहा था. वह यही देख रहा था.

मैंने कहा- क्या कुछ अलग तरह की चुदाई चल रही है? उसने हंस कर कहा- हां, झूला झूल कर चुदाई चल रही है.
मेरे मन में भी आया कि ये झूलती हुई चीज़ कैसी चुदाई है. देखना होगा।

मेरा भी दिल हिल गया और मैं भी उस चुदाई को देखने के लिए कमरे की बालकनी में पहुंच गया. सामने चल रहा चुदाई का मंजर देख कर मेरी आंखें खुली की खुली रह गईं.

अब तक शायद झूला झूलने का सीन खत्म हो चुका था और लड़की बाथरूम में जा चुकी थी. बाथरूम का दरवाज़ा खुला था और अन्दर से पानी गिरने की आवाज़ आ रही थी.

मैं समझ गया कि कैदी बाथरूम में है. अब मैंने धैर्य रखा और अन्दर का नजारा देखने लगा. एक मिनट बाद लड़की नंगी ही बाथरूम से बाहर आ गई.

उसकी नशीली चूत और फूले हुए मम्मे देख कर मेरा लंड फूलने लगा था. लड़की इठलाती हुई, बाल संवारती हुई आई और अपने प्रेमी की गोद में बैठ गयी।

वह अपने प्रेमी की गोद में छाती से छाती मिलाकर बैठी थी, इसलिए उनके पैर एक-दूसरे के लिंग और चूत को रगड़ रहे थे, जो मुझे दिखाई नहीं दे रहा था।

मोहित ने बताया था कि शायद उन दोनों का एक राउंड पूरा हो चुका था. अब लड़की लड़के को चूमने लगी. शायद वो दोनों अब दूसरे राउंड के लिए तैयार हो रहे थे.

लड़के ने एक गिलास में पैग बनाने को कहा. तो लड़की ने शराब की बोतल से शराब बिस्तर पर रखे गिलास में डाल दी और बोतल पास ही टेबल पर रख दी.

फिर उसने टेबल से पानी की बोतल से पानी डाला और पैग तैयार कर दिया. अब लड़की ने शराब अपने मुँह में भर ली और अपना मुँह लड़के के मुँह से लगा दिया। लड़के ने लड़की के मुंह से शराब पी ली.

मैं ये सब पहली बार देख रहा था. कुछ घूंट पीने के बाद, लड़की ने अपने मुँह से शराब अपने एक स्तन पर गिराना शुरू कर दिया। लड़का लड़की के सीने से शराब पीने लगा.

इसी तरह उनके बीच शराब पीने-पिलाने का सिलसिला चलता रहा. अब दोनों अलग हो गये और लड़की पैर फैला कर लेट गयी. लड़के ने लड़की की चूत पर शराब डाल दी और उसकी चूत को चाटने और चूसने लगा.

वो दोनों बड़े आराम से सेक्स का मजा ले रहे थे. लड़के का लिंग अब सख्त हो गया था, जिसे लड़की ने अपने हाथ में पकड़ रखा था. शायद कुछ देर तक अपनी चूत चुसवाने से लड़की गर्म हो गयी थी.

तो वह उठी, लड़के को बिस्तर पर खड़ा किया, उसका लिंग शराब के पैग में डाला और चूसने लगी। लड़का भी अपने लंड के साथ उसके मुँह में शराब डालने लगा.

इस तरह लड़की लड़के का लंड चूसने लगी थी. वो लड़के का पूरा लिंग अपने मुँह में गले तक लेने लगी थी. यह दृश्य मैंने जीवन में पहली बार देखा था।

मैं बहुत कामुक हो गया था और उन दोनों की चुदाई का सीन देखते हुए मैं भी अपने हाथ हिलाने लगा. मैंने हस्तमैथुन करना शुरू कर दिया. उसके बाद लड़के ने कुछ कहा.

तो लड़की उठी और लड़के के कहे अनुसार एक तरफ रखा कैमरा सेट कर दिया। तब मुझे समझ आया कि यहां किसी ब्लू फिल्म की शूटिंग चल रही है. अब मैं बहुत उत्तेजित हो गया.

मैं कुछ प्लान बनाने लगा था कि कैसे मैं भी इस लड़की के साथ सेक्स कर सकूं. मुझे यह पोर्न एक्ट्रेस लड़की मेरे बॉस के लिए भी उपयुक्त लगी. उसे भी लंड चुसवाने का शौक था और इससे उसे पूरा मजा मिल सकता था.

कुछ देर बाद दोनों बिस्तर पर आ गए और कैमरे के सामने सेक्स करने लगे.
अब मुझे उन्हें चोदने से ज्यादा उनकी अदाएं देखने में दिलचस्पी थी.

उस पोर्न एक्ट्रेस का शरीर बहुत लचीला था और जिस तरह से पोर्न में जिमनास्टिक करने वाली लड़कियाँ चोदते समय अपना लचीला शरीर दिखाती हैं, यह लड़की भी उसी तरह से सेक्स कर रही थी।

उसने ऐसा आसन बनाया कि मैं बहुत खुश हो गया. लड़की अपनी चूत को पूर्ण अर्धवृत्त आकार में लड़के के सामने प्रस्तुत कर रही थी।

लड़का खड़ा होकर सामने से उसकी चूत में अपना लंड डाल रहा था. काफी देर तक पोर्न एक्ट्रेस की चुदाई का सीन करने के बाद दोनों नंगी ही एक दूसरे से चिपक कर लेट गईं और मैं अपनी जगह पर आ गया.

उस रात मैं बहुत बेचैन रहा. सुबह जब वो दोनों बाहर आये और जाने लगे तो मैंने लड़के से कहा- सर, आपको हमारा होटल और रूम कैसा लगा?

उन्होंने कहा- बिल्कुल औसत दर्जे का! अच्छा, आपको हमारा सिनेमा कैसा लगा? मैं अवाक था। मैंने जल्द ही स्वीकार कर लिया कि हां, मैंने इसे देखा था और इसके लिए मुझे खेद है।

उन्होंने हंसते हुए कहा- माफी की कोई जरूरत नहीं, मुझे तो बस आप जैसे सहयोगी की जरूरत है. मैंने हंस कर कहा- ये मेरा सौभाग्य होगा.

इस तरह मेरी उससे दोस्ती हो गयी. उसका नाम मेहुल था, वह मुंबई में दोयम दर्जे की फिल्मों में काम करता था और अपनी क्लिप बनाकर फिल्म निर्माताओं को बेचता था।

बाद में वे उसकी फ़िल्में अन्यत्र बेच देते थे। हालाँकि, मेरा इस सब से कोई लेना-देना नहीं था। मैं तो बस किसी लड़की के साथ मजा करना चाहता था. मेहुल मुझे पैसे देकर और अपना कार्ड देकर चला गया।

दो दिन बाद मैंने उसे फोन किया और पूछा- अब कब आना है? उसने कहा- मैं शनिवार को आ रहा हूं और इस बार मेरे साथ एक और लड़की होगी.

मैंने कहा- मुझे क्या करना होगा? उन्होंने कहा- कमरा बढ़िया से सेट करो और तुम उस लड़की को भी चोदो. मैंने कहा- और इसके बदले मुझे क्या करना होगा?

उन्होंने हंसते हुए कहा- कैमरा तो पकड़ना ही पड़ेगा. मैं समझ गया कि मुझे इन दोनों की चुदाई का वीडियो बनाने का काम मिल रहा है. मैं सहमत। उस दिन मैंने मोहित को अपनी सीट के पास पहरे पर बिठा रखा था.

किसी भी परेशानी से बचकर रहने को कहा. उस रात नौ बजे मेरा दोस्त मेहुल आया और उसी कमरे में रुक गया.
उसके साथ बुर्का पहने एक लड़की भी थी.

बुर्का पहने लड़कियों को देख कर मुझे आसानी से समझ आ गया कि वो कमरे में चुदाई करवाने आई हैं. दोनों एसी रूम में चले गये. मैंने अपने सहकर्मी मोहित को बुलाया और उसी कमरे में चला गया।

अंदर मेहुल लड़की के साथ बैठा था और दोनों सिगरेट पी रहे थे। मेहुल सिगरेट पीने के साथ-साथ लड़की को सीन भी समझा रहा था कि सेक्स कैसे करना है.

जब मैं कमरे में पहुंचा तो मेरी नजर उस लड़की पर पड़ी. वो बहुत हॉट लड़की थी. मेहुल उससे सेक्स के बारे में बात कर रहा था. मुझे आता देख उसने मुझे उस लड़की से मिलवाया और उसने मुझे गले लगा लिया.

मेरे लंड में झनझनाहट होने लगी. मैं अपने आप पर काबू नहीं रख सका और उसके स्तन दबा दिये। मेहुल हंसने लगा और बोला- भाई, इतनी जल्दी क्यों करते हो, शांत रहो. आयशा तुम्हें पूरा मजा देगी.

कुछ देर बाद उन दोनों ने मुझे कैमरा दे दिया और उनकी चुदाई शुरू हो गयी. मैं उनको सेक्स करते हुए देख कर अपना दिमाग खो चुका था. जैसे ही उनका सीन ख़त्म हुआ तो मैंने ‘आव ना ताव’ देखा, मैं भी आयशा के ऊपर था। टूट गया

मेहुल हंसने लगा और आयशा से बोला- पहले उसे एक बार तुम्हारी चूत का मजा तो लेने दो, नहीं तो वो पूरी एकाग्रता से काम नहीं कर पाएगा. यह सुनकर मैंने जल्दी से अपने कपड़े उतारे और बिस्तर पर आ गया।

मैंने आयशा की टाँगें फैला दीं और उसके साथ सेक्स खेलना शुरू कर दिया। मैंने अपना लंड आयशा के मुँह में डाल दिया। उसने मेहुल को इशारा भी किया और मेहुल ने कैमरा ऑटो मोड पर कर दिया और बिस्तर पर आ गया।

अब हम तीनों ग्रुप सेक्स करने लगे. कुछ ही देर में मेहुल का रस निकल गया और वो बिस्तर से हट गया. उसने कैमरा पकड़ा दिया और हम दोनों सेक्स करने लगे.

मैंने अपने लंड पर कंडोम लगाया और उसकी चूत में डाल दिया. पोर्न एक्ट्रेस की चूत पहले से ही चिकनी थी इसलिए मेरा 7 इंच का लंड झट से उसकी चूत में घुस गया.

मैं अपनी ही लय में जोर जोर से चोदने लगा. वो मेरी जिंदगी की बहुत अनमोल रात थी. मुझे जिंदगी में पहली बार इतनी मस्त लड़की की चूत चोदने का मजा मिला था.

मैंने उसे 1 घंटे तक खूब चोदा. उसके बाद मेहुल ने मुझे अपनी ब्लू फिल्मों में लेना शुरू कर दिया और मुझे मेरी पसंद का काम मिलने लगा। दोस्तों, मुझे आशा है.

आपको मेरी पोर्न एक्ट्रेस की चुदाई पसंद आई होगी. मेरी और भी मजेदार कहानियों के लिए मेरे साथ जुड़े रहें। ऐसी कयामत भरी चुदाई कहानियाँ पढ़ने के लिए Readxstories.com पर बने रहें। हम आपको विश्वास दिलाते हैं कि हम आपकी पसंद की सभी कहानियाँ आपके लिए लाएँगे। और चूत और लंड की गर्मी को शांत करते रहूँगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Delhi Escorts

This will close in 0 seconds