May 21, 2024
Call girl ki bur chudai

हेलो दोस्तों Readxstories के पाठकों को मेरा नमस्कारमेरा नाम आलिया है और प्यार से लोग मुझे आलिया डार्लिंग के नाम से बुलाते हैंमेरी उम्र 28 साल हैमेरा मखमली गोरा रंग है और Chubby बदन है। यह मेरी कॉल गर्ल बनने की सच्ची कहानी है आज की कॉल गर्ल की बुर चुदाई की कहानी कॉल गर्ल की ही जुबानी। 

पर मेरे कसे हुए स्तन और उभरी हुई मेरी गांड ही लोगो को अपनी और आकर्षक बनाती है। आज मैं कॉल गर्ल के पेशे में हूं, और यहां तक मुझे मेरे पति ने ही पैसे के लालच में बेचा है।

अब मैं कहानी पर आती हूं, मेरी शादी आशतोष से 22 साल की उम्र में हो गई थी। मेरा शादी शुदा जीवन मस्ती से खत्म हो रहा था, आशतोष मुझे मस्ती से चोदता था।

मैं आशतोष से चुदवा कर मस्त मगन हो जाती थी, पर ये खुशियां ज्यादा दिनों की नहीं थी। आशतोष का एक्सीडेंट हो गया और वो इस जालिम दुनिया को छोड़ गया। आशतोष के जाने के बाद मेरे रूप ने मुझे कामी कुत्तों का शिकार बनाना शुरू कर दिया।

पहला शिकार तो मैं अपने ससुर जी का ही हो गई, ससुर जी मुझे चोदते थे। सासु मां मुझे तने मारती थी, ये बदचलन रंडी कुलटा ये मुझे बोलती रहती थी।

मेरा अब सुसराल में रहना मुश्किल हो गया था, तो मैं मायके आ गई। यहाँ मेरी माँ थी. मेरे पापा नहीं थे, घर का खर्चा भाई की कमाई से चलता था।

भाभी के अच्छे बुरे तन रोज सुनने पड़ते थे, इसी बीच हर्ष नाम का एक आदमी जो करीब 45 साल का था। वो गले का काम करता था, तो उसने मुझे शादी करने का ऑफर दिया।

मेरी मां जाठ से तैयार हो गई, और मैं शादी कर के नरेश के घर आ गई। रात में नरेश ने मेरे सारे कपड़े उतारे और वो मेरे संगमरमरी बदन को निहारने लग गए।

अब वो मेरे स्तनों को निचोड़ कर मेरी चूत को सहलाने लग गई। फ़िर उन्हें मेरी चूत में अपनी जीभ को डाल कर वो मेरी चूत को चोदने लग गया। पर वो मेरी चूत को अपने लंड से चोद सकता था, पर उसके लंड में इतनी ताकत ही नहीं थी।

मैं निराश तो हुई पर इतना ज्यादा निराशा नहीं हुई। मैंने अपने आदमी को समझ रही थी, चलो चुदवाने के लिए नहीं मिलेगी पर मैं सुखी से रहूंगी।

पर कुछ दिनों के बाद एक दिन नरेश अपने साथ एक 22 साल के लड़के को ले कर आया। उसका नाम रोहित था और वो एक दम हैंडसम मस्त मजबूत बदन वाला था।

नरेश ने बताया कि वो उसका दोस्त है, और फिर उसने मुझे रोहित से चोदने के लिए बोला। मै चुदाई के लिए वेसे ही तड़प रही थी, पर फिर मैंने पहले थोड़ी ना नुकर करी और फिर मैं तैयार हो गई।

रोहित मेरे पास आया और वो मेरे रसीले होठों को चूसने लग गया। मैं जवान जिस्म का मजा लेती रही और रोहित ने मेरे कपड़े उतार दिए। वो मेरे स्तनों को देख कर पागल हो गया, क्योंकि वो उसके सामने एक बांध उछाल कर बाहर आये थे।

मैंने भी रोहित की पैंट उतार दी और उसका लंबा मोटा लंड उछल कर बाहर आ गया। मैं तो मस्त लंड को देख फूली नहीं समा नहीं रही थी, फूलाड़ी लंड से चुदवाने की कल्पना से ही मेरी चूत पोर्न पानी छोड़ने लग गई थी।

रोहित मेरे स्तन से खेलते हुए मेरी चूत पर आ गया, वो मेरी चूत में अपनी जीभ डाल कर चूत के रस का रस पान कर रहा था। मुझे अब बहुत मजा मिल रहा था, मेरी चूत लंड को लेने के लिए एक बांध प्यासी थी।

मेरी चूत अंदर से सिकुड़ती जा रही थी, तो रोहित का लंड भी अब फूला जा रहा था, उसका लंड मेरी मुट्ठी में भी अब समा नहीं रहा था, और मैं उसकी तड़प को साफ साफ महसूस कर रही थी।

शायद रोहित भी मेरी चूत की कसाब को अपनी जीभ से महसुस कर रहा था। अब देर ना करते हुए मैं बिस्तर पर सीधी लेट गई, और अब मैंने अपनी डोनो टैंगो को फेला दिया।

रोहित ने लंड को मेरी चूत के मुँह पर रख कर जोरदार धक्का मारा, और रोहित का लंड मेरी चूत की दीवारों को अंदर समा गया। एक मोटा लंड चूत में जाने से क्या मजा मिलता है, ये मैं आपको लिख नहीं सकता।

आप ने महसूस किया और मजा सिर्फ एक दम अचानक से मोटा लंड अपनी चूत पोर्न में ले कर ही समझ गया। रोहित अब मुझे मस्ती से चोद रहा था, और नीचे से मैं अपनी गांड को उठा-उठा कर मस्ती से उससे चुद रही थी,

करीब 15 मिनट की जबरदस्त चुदाई के बाद मेरी चूत ठीक कर एक दम छोटी सी हो गई। मेरा पूरा जिस्म खत्म हो गया, और मैं लगातर आह आह कर रही थी।

मेरी चूत से उसका रस अब तपाने लग गया था, पर रोहित का मोटा लंड मेरी चूत की गली में अभी भी दूध लग रहा था। अब पूरे कमरे में फच फच की आवाज गूंज रही थी, फिर मुझे रोहित के लंड का गरम गरम पानी अपनी चूत में महसूस हुआ।

मेरी आंखें उस मस्ती में अपना आप बंद हो गई, मैं सोच रही थी कि रोहित का लंड अब चूत से बाहर निकल जाएगा। पर ये क्या वो तो अभी भी मेरी चूत को चोद जा रहा था, बस सिर्फ ये था कि लंड थोड़ा सा ढीला पड़ गया था।

रोहित के लंड ने चूत में पड़े पड़े ही चुदाई का दूसरा सेशन शुरू कर दिया था। मेरे पति नरेश ये सब शॉक हो कर देख रहा था।

उसका लंड करीब 5 मिनट बाद ही मेरी चूत में पड़े पड़े खड़ा हो गया था। अब रोहित फिर से इतनी हाई स्पीड से मुझे चोदने लग गया, अब मुझे भी बहुत मजा आ रहा था।

मुख्य जगह से अपनी गांड उठा कर उससे चुद रही थी। इस वाले सेशन में रोहित ने मुझे पूरा 30 मिनट तक चोदा। मैं भी मस्ती से उसका साथ दे रही थी।

एक साथ मेरी चूत और रोहित के लंड का रस निकल गया, और मैं पूरी तरह से मस्त और थक गयी थी। उसके बाद मैं बोली- रोहित तुमने अंदर पानी क्यों निकाला?

रोहित अपना लंड मेरी चूत पोर्न से बाहर निकाल कर बोला – अगर मैं लंड बाहर निकाल कर तुझे फिर से चोदता, तो तेरा ये बूढ़ा मुझसे डबल पैसे मांगता।

ये सुन कर मेरी आंखें फटी की फटी रह गई है, मेरे पति नरेश ने ही मेरा सौदा करके मुझसे चुदवाया है। दोस्तो ये मेरा कॉल गर्ल बनने का पहला भुगतान था।

आज मैं एक स्टार रंडी बन चुकी हूं, अब मेरा नाम हाई सोसाइटी में है। अब मैं रोज अपने किसी ग्राहक के साथ होटल ये उसके घर में जाती हूं।

अगर आपको ये कहानी अच्छी लगी है? लेखक को खुश करने के लिए अपना फीडबैक जरूर दें, कमेंट सेक्शन में जरूर लिखें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Delhi Escorts

This will close in 0 seconds