June 18, 2024
दो जिगोलो ने चोदा

आज की हिंदी सेक्स कहानी है “सेक्सी माँ की वासना को संतुष्ट करने के लिए दो जिगोलो ने चोदा” इस कहानी को पढ़ने के बाद आप अपना लंड हिलाने से नहीं रोक पाएंगे।

नमस्कार दोस्तों! आज जो कहानी मैं आपको बता रहा हूँ वो मेरी माँ की वासना पूरी करने वाली चुदाई के बारे में है। सबसे पहले मैं आप सभी को अपना परिचय दे दूं।

मैं रोहित हूं और मेरा घर दिल्ली में है। मेरी मां अब 40 साल की हैं लेकिन वह अब भी एक लड़की की तरह दिखती हैं। उसका नाम सुनीता है। सच कहूँ तो वो किसी आइटम से कम नहीं लगती।

मेरी माँ बहुत बड़ी रांड है। इस उम्र में भी वो दो लंड से एक साथ चुदाई करवा सकती है।

माँ को कमर में दर्द है, डॉक्टर ने उन्हें मालिश कराने की सलाह दी है। इसलिए घर पर एक मसाज करने वाली लड़की रख ली है। वह दोपहर को आती थी। वो हफ्ते में तीन दिन आती और माँ की मालिश करती और फिर चली जाती।

माँ घर पर अकेली होती तो कोशिश करती कि अच्छी मालिश हो जाये। इसलिए माँ ने उस लड़की को दोपहर 1 बजे का समय दिया था। उस वक्त वहां कोई नहीं था।

मैंने कभी माँ को गलत नजर से नहीं देखा था। एक दिन मैंने जो देखा उसके बाद मेरी सोच बदल गयी। उस दिन मैं दोपहर को बिना कुछ कहे घर आ गया।

मेरे पास एक और चाबी थी, जिससे मैं घर में घुस सकता था। माँ का कमरा बंद था, वो मालिश करा रही थी। मैंने सुना कि कुछ हो रहा है, तो मैं उसके कमरे की ग्रिल के पास गया।

मैंने देखा कि लड़की माँ की चूत के बाल साफ़ कर रही थी। माँ उस वक्त पूरी नंगी थीं। माँ अपनी उंगली को चूत में अन्दर-बाहर कर रही थी।

मसाज करने वाली महिला ने मां से पूछा- क्या आप सेक्स से संतुष्ट नहीं होतीं?

माँ बोलीं- मेरे पति मुझे संतुष्ट नहीं कर पाते, वो बहुत जल्दी झड़ जाते हैं। मेरी कामुकता को संतुष्ट करना उनके वश में नहीं है।

मैंने उसे पहले भी किसी को फोन पर यह कहते हुए सुना था कि मम्मी पापा से संतुष्ट नहीं हैं।

फिर मालिश करने वाली महिला ने माँ से कहा- अगर तुम चाहो तो मैं नकली लंड से तुम्हारी प्यास बुझा सकती हूँ।

माँ ने कहा- ठीक रहेगा, कल ही कर लेते हैं, शुभ काम में देर क्यों करना।

मसाज वाली ने कहा- मैं 500 रुपए लूंगी। इस काम के लिए 1000 अलग से।

माँ ने हाँ कहा।

अब मैं कल का इंतजार कर रहा था।

मैंने पूरी रात अपनी मां को नंगी देखा, उनकी लेस्बो के बारे में सोच कर मैं बार-बार मुठ मार रहा था। चार बार लंड हिलाने के बाद मैं सो गया। (दो जिगोलो ने चोदा)

रोज की तरह मैं सुबह ऑफिस के लिए निकला। मैं कल इसी समय घर वापस आया। वे दोनों कमरे में थे। माँ कपड़े उतार रही थी और लंड को अपनी कमर में डाल रही थी।

माँ ने अपने कपड़े उतार दिये। उसने सिर्फ ब्रा और पैंटी पहनी हुई थी और बिल्कुल परी लग रही थी।

माँ बोलीं- जल्दी करो, मुझसे इंतज़ार नहीं हो रहा है… अब तक मैंने अंग्रेजी फिल्मों में नकली लंड से चुदाई देखी है, आज मैं खुद ही अपनी चुदाई करवाने जा रही हूँ, बहुत मजा आएगा।

इतने में मसाज करने वाली महिला ने बैग से दूसरा लंड निकाल लिया।

माँ ने पूछा- दो लंड क्यों लाये हो?

उसने कहा- एक गांड चोदने के लिए, एक चूत के लिए।

फिर उसने माँ को पूरी नंगी कर दिया। पहले तो उसने माँ को गर्म करने के लिए थोड़ी मालिश की और उनकी चूत में उंगली की।

कुछ देर बाद वो दोनों सेक्स करने लगे।

उस लड़की ने मेरी माँ को घोड़ी बना दिया और पीछे से उसकी चूत में अपना लंड डाल दिया। माँ बहुत मस्त आवाजें निकाल रही थी। नकली लिंग की लंबाई करीब 12 इंच थी।

माँ बोली: आज तो मुझे जन्नत मिल गयी।

उन दोनों ने एक घंटे तक सेक्स किया, माँ को अलग-अलग पोज़िशन में लंड से बहुत मज़ा आ रहा था। मुझे भी माँ का लेस्बियन सेक्स देखने में मजा आ रहा था।

कुछ देर बाद माँ दोनों लंडों से एक साथ काम करवा रही थीं। माँ बोलीं- आज मेरी चूत फाड़ दो … सारी प्यास बुझ जायेगी।

मसाज करने वाली महिला बोली- अगर तुम चाहो तो मैं किसी मर्द से तुम्हारी प्यास बुझवा सकती हूँ.. वो तुम्हें और भी अच्छे से चोद सकता है। (दो जिगोलो ने चोदा)

माँ बोलीं- मुझे मर्द नहीं, जवान लड़का चाहिए। एक बार मेरे बेटे के दोस्त रोहित ने मुझे चोदा तो मुझे बहुत मजा आया।

यह सुनने के बाद ही मुझे आज पता चला कि मेरे भाई जैसे दोस्त ने मेरी माँ को चोदा था।

मालिश करने वाली ने कहा- तो फिर उसे बुलाओ।

मां ने कहा- अगर वह यहां होता तो उसे पहले ही बुला लेती, वह अब दिल्ली छोड़ चुका है।

मसाज करने वाली महिला बोली- मेरे दिमाग में एक लड़का है, मैं उससे बात करती हूं।

माँ बोलीं- अभी बुलाओ।

हॉट लड़कियां सस्ते रेट में इन जगह पर बुक करें :

उसने फोन करके एक लड़के से उसकी मां से बात कराई। लड़के ने क्या कहा, यह तो मैंने सुना नहीं, बस इतना सुना कि कल दो बजे का समय तय हुआ है। उस लड़के से सेक्स के लिए 5000 रुपए की बात हुई थी।

घर पर सेक्स करने की बजाय लड़के के पास जाना पड़ा। वह कमरा भी लड़के का ही था। माँ के फोन पर कमरे का पता आ गया था। जो मैंने शाम को अपनी मां के फोन से अपने फोन में ले लिया था।

अब आगे क्या होगा वो मैं आपको इस सेक्स कहानी में बताऊंगा। लेकिन इतना तो तय था कि अब मेरा भी माँ चोदने का मन होने लगा था। मैं मौके का इंतजार करने लगा।

अगले दिन सुबह माँ ने कहा- मैं आज मौसी के घर जाऊँगी।

मैंने कहा- माँ, प्लीज टाइम बता दो, कोई चला जाएगा और वापस आ जाएगा।

माँ बोलीं- नहीं, मैं खुद चली जाऊंगी।

माँ आज बहुत खुश लग रही थी जैसे आज उन्हें कोई बहुत बड़ी चीज मिलने वाली हो।

उस दिन मैं घर पर ही रुक गया क्योंकि मुझे पीछा करना था। माँ ने नई साड़ी पहनी, अच्छे से तैयार हुई और मुझसे बोली- मैं जा रही हूँ।

मैं: माँ, आप पहले कभी अपनी मौसी के घर इतनी तैयारी से नहीं गयीं?

माँ बोलीं- अच्छा नहीं लग रहा कि आज आंटी बन कर जाऊ। (दो जिगोलो ने चोदा)

मैंने सोचा कि चुदाई के लिए इतना तैयार क्यों होना.. जब जाकर अपने कपड़े उतारने होंगे।

माँ अपना हैंडबैग अपने साथ ले गई। माँ तैयार होकर कुछ काम करने लगी।

मैंने बैग खोलकर देखा तो उसमें नाइटवियर और मेकअप का सामान था।

दस मिनट बाद माँ ऑटो लेकर घर से निकल गईं। मैं मोटरसाइकिल पर अपनी माँ के पीछे-पीछे गया। उस लड़के का पता मेरे घर से दस किलोमीटर दूर था, जो एक होटल था।

ये बात मुझे मेरी मां के फोन से पता चल गई थी इसलिए मैं सुबह उस होटल में गया और एक कमरा बुक कर लिया। मैं माँ के आने से पहले होटल पहुँच गया।

मुझे उस कमरे के बारे में पता चल गया था। जिस कमरे में चुदाई की रस्म होनी थी। रिसेप्शन से ही मुझे उस लड़के के कमरे के बारे में जानकारी मिली जिसका नाम माँ के फ़ोन में मैसेज के साथ मिला था।

मैंने कमरे की ओर देखा। उस कमरे में एसी के पास एक छेद था। मैं उसके सामने खड़ा था। कमरे के अंदर पहले से ही दो लड़के मौजूद थे। मैं सोचने लगा कि उन दोनों का काम क्या था।

कुछ देर बाद माँ कमरे में आईं। उन दोनों से बात करने के बाद माँ ने उन्हें गले लगाया और चूमा। मुझे ऐसा लग रहा था मानो ये दोनों लड़के एक साथ मेरी माँ को चोदने जा रहे हों। दोनों की उम्र 25 साल से ज्यादा नहीं थी।

खेल शुरू हो गया है। माँ ने साड़ी उतार दी। एक लड़के ने माँ का पेटीकोट उठा लिया था और उनकी पैंटी से उनकी चूत को रगड़ने लगा था।

उसने माँ से कहा कि जल्दी से अपने कपड़े बदल कर वापस आ जाओ।

माँ शौचालय गई और अपने कपड़े बदले।

इस समय माँ पूरी रंडी लग रही थीं। यहाँ तक कि उसके सामने बीस साल की लड़की भी कुछ नहीं लग रही थी। काली नाइटी में उनका गोरा बदन देख कर मेरी माँ गजब लग रही थीं।

माँ को देख कर वो दोनों एकदम से उत्तेजित हो गये। उन दोनों ने माँ को पकड़ लिया और किस करने लगे। ऐसा लग रहा था मानो दोनों सेक्स के भूखे हों।

एक लड़के ने झट से अपना लंड निकाला और माँ के मुँह में डाल दिया। माँ लंड चूसने लगीं। वो ऐसे लंड चूस रही थी जैसे उसे जन्नत मिल गयी हो। (दो जिगोलो ने चोदा)

अब माँ ने अपने सारे कपड़े उतार दिये। वो पूरी नंगी हो गयी। उसकी चूत पर एक भी बाल नहीं था। चूत चमक रही थी, स्तन उभरे हुए थे।

दूसरे ने माँ की पैंटी उतार दी और उनकी चूत चाटने लगा। माँ के मुँह से आवाजें आने लगीं। माँ को लंड चूसने में मजा आ रहा था। दूसरे ने माँ को छेड़ा और अपना लंड उनकी चूत में घुसा दिया। लंड घुसते ही माँ एकदम से चिल्ला उठीं।

वो लड़का मेरी माँ को जोर जोर से चोदने लगा। कुछ देर बाद उन दोनों ने माँ के आगे और पीछे एक साथ अपना लंड डाल दिया। वो दोनों ऊपर नीचे होने लगे। माँ दोनों के बीच सैंडविच बनकर अपनी चुदाई करवा रही थीं। माँ उन दोनों के लंड से एक साथ मजे ले रही थीं।

साले मेरी माँ को रंडी की तरह चोद रहे थे।

दस मिनट की चुदाई के बाद एक लड़का झड़ने वाला था। उसने अपना लंड निकाला और माँ के मुँह में डाल दिया। माँ ने उसका रस मुँह में लिया और खा लिया।

जब दूसरे ने झड़ने को कहा तो माँ ने उसके लंड का पूरा माल अपनी चुत में नहीं जाने दिया। बल्कि पेट पर ले लिया।

उसके बाद दूसरी बार की चुदाई के दौरान माँ ने उन दोनों का सारा वीर्य अपने मुँह में खा लिया।

मेरी माँ को दो घंटे में तीन बार चोदा गया। तीसरी बार भी वो दोनों नहीं माने और अपना वीर्य माँ की चूत और गांड में छोड़ दिया।

इसके बाद मां ने दोनों को पैसे दिए और घर के लिए रवाना हो गईं।

यह थी मेरी माँ की कामुकता और चुदाई की कहानी जिसमें मैंने आप सभी को लिखा है कि कैसे मेरी माँ की वासना शांत हुई।

तो दोस्तो, आपको मेरी यह चुदाई की कहानी कैसी लगी, जरूर बताएं।

अगर आपको यह दो जिगोलो ने चोदा कहानी पसंद आई तो हमें कमेंट बॉक्स में ज़रूर बताएं।

यदि आप ऐसी और चुदाई की सेक्सी कहानियाँ पढ़ना चाहते हैं तो आप “Readxstories.com” पर पढ़ सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Lucknow Call Girls

This will close in 0 seconds