May 21, 2024
Gand Marwane Ki Chahat

आज मैं आप को अपनी और अपने सहकर्मी से Gand Marwane Ki Chahat की कहानी सुनाता हूँ। लेकिन उसे पहले अपने बारे में बता देता हूं।

मेरी उम्र 27 साल है और मेरी लम्बाई 5’11” है। मेरी बॉडी स्लिम है और रंग गोरा है और जिस्म पे बाल, ना के बराबर है।

मैं एक बहुत खूबसूरत और चिकना लड़का हूँ। और इस वजह से बहुत से अंकल और लड़के मुझसे सेक्स करने को बेताब रहते हैं। मैं 18 साल की उम्र से गे सेक्स कर रहा हूँ।

मुझे और मेरे सहकर्मी को साथ काम करते हुए 1.5 साल हो गए। लेकिन आज तक हमारे दरमियान कुछ नहीं हुआ था।

मुझे उसकी तरफ बहुत आकर्षण था और दिल तो करता था, कुछ हो जाये।

इसलिए मैंने काफी दफा मजाक-मजाक में उसको ये कहा था, लेकिन उसने ध्यान नहीं दिया।

मेरे सहकर्मी की उम्र 34 साल है और वह शादीशुदा है। उसका शरीर पतला और छाती पर बाल हैं, जो मेरी कमजोरी है।

इसके अलावा मुझे उसके पैर बहुत खूबसूरत लगते हैं और दिल करता है, कि हर वक्त धो-धो कर उनका पानी पियू।

फिर एक रात ऐसी आई, मैंने जो सोचा था, वो पूरा हो गया। मेरे सहकर्मी को घर गए हुए काफी समय हो गया था।

जिसकी वजह से वो अपनी बीवी से नहीं मिल सकता था। फिर मैंने सोचा, कि क्यू ना मैं उसकी बीवी बन जाउ।

लेकिन ये सब कैसा होगा, मुझे ये समझ नहीं आ रहा था। फिर एक रात हम दोनों एक ही कमरे में अलग-अलग बिस्तर पर सोने की तैयारी कर रहे थे।

( Gand Marwane Ki Chahat )

तभी मैंने अपने सहकर्मी को अपनी सेक्स कहानियाँ सुनानी शुरू कर दी।

पहले तो वो बड़ा हैरान हुआ, लेकिन फिर आहिस्ता-आहिस्ता वो भी मेरी कहानियां सुनने को मजा लेने लगा।

फ़िर उसने मुझसे कहा: अगर तू दूसरे से करवाता है, तो मेरे से भी करवा ले।

ये बात सुनते ही मेरे दिल में लड्डू फूटने लगे।

लेकिन मैंने उसको बताया, कि मैंने 2 साल से गांड नहीं मरवाई और वो काफी टाइट हुई पड़ी है। तो आज हम गांड नहीं मरवाएँगे।

उसने ठीक बोला और मुझे अपने बिस्तर पर आने को कहा।

जब मैंने उसे बिस्तर पर लेटने लगा, तो उसने मुझे रोक दिया और स्ट्रिप डांस करने का बोला।

मुझे पहले तो बड़ा अजीब लगा, लेकिन फिर भी मैं अपनी गांड को हिलाते हुए शर्ट उतारने लगा।

उसने मुझे धीमे-धीमे कपड़े उतारने का बोला और वो मुझे देखता रहा।

मैं कोई 5 मिनट उसके लिए डांस करता रहा और अपनी गांड हवा में हिलाता रहा।

उसके बाद उसने मुझे अपना करीब बुलाया और मेरी गांड पर हाथ फेरना शुरू कर दिया और मैंने अपना हाथ उसके लंड पर रख दिया।

हाथ रखते ही मुझे पता चल गया, कि आज फतने वाली थी।

क्योंकि उसका लंड पूरा तैयार था और बहुत ज्यादा मोटा था और लंबाई भी 8″ से ज्यादा थी।

उसने अपने भी कपड़े उतारे और हम फुल न्यूड हो कर किसिंग करने लगे। हम कोई 10 मिनट तक एक दूसरे के शरीर को चूमते रहेंगे।

उसने मेरे जिस्म को मज़बूती से जकड़ा हुआ था, जिसे मुझे बड़ा मज़ा आ रहा था। अब मुझे पता लग गया था,

कि आज मैं किसी मर्द के हाथ चढ़ गया था। 10 मिनट की किसिंग के बाद मैंने उसके लंड को अपने मुँह में ले लिया।

उसका लंड इतना मोटा था, कि मेरे मुँह में नहीं जा रहा था। लेकिन मैंने आहिस्ता-आहिस्ता लंड को मुँह में ले लिया।

( Gand Marwane Ki Chahat )

उसके लंड के प्रीकम के स्वाद से मुझे तो मजा आ गया। अभी मैंने कोई 4-5 मिनट हाय उसके लंड की छुपे लगाया, कि उसने मुझे उल्टा लेटने को बोला और मेरी गांड पे किस करने लगा।

Gand Marwane Ki Chahat

उसके इस काम से मैं बड़ा हैरान हुआ और मुझे पता लग गया, वह भी लड़के के साथ पहली दफा नहीं कर रहा था।

मेरी गांड पे किसिंग करते-करते उसने एक उंगली मेरे अंदर घुसा दी।

इसे मुझे बहुत मजा आया. लेकिन मुझे डर भी लग रहा था, कि 2 साल बाद गांड मरवाने लगा और वो भी इतने मोटे लंड से।

उसको शायद मेरी परेशानी का पता लग गया और उसने मेरी गांड के छेद को चाटना शुरू कर दिया।

इससे मैं नई दुनिया में चला गया।

( Gand Marwane Ki Chahat )

कोई 5 मिनट मेरी गांड चाटने के बाद, उसने दोबारा अपना लंड मेरे मुँह में दे दिया और तेज़-तेज़ मेरे मुँह की चुदाई करने लगा।

कोई 3-4 मिनट बाद जब मेरा मुँह थक गया, तो वो पूरा का पूरा मेरे मुँह में रिलीज़ हो गया और मेरे मुँह को हाथ से पकड़ लिया, ताकि मैं उसका सारा पानी पी जाउ।

उसके बाद मुझे लगा, कि आज मेरी गांड बच गई, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। क्योंकि रात अभी काफी बाकी रहती थी और मेरे अपने सहकर्मी को अपना मजा लगा चुका था।

क्या सबके बाद मेरा सहकर्मी बाथरूम चला गया। जब वो बाहर निकला, तो मैं बाथरूम जाने लगा।

लेकिन उसने मुझे पीछे से धक्का दे दिया और दीवार के साथ लगा दिया। फ़िर वो मेरी गरदन पे किसिंग करने लगा।

साथ ही वो अपना लंड मेरी गांड की लकीर में रगड़ने लगा।

मैं हैरान हो गया, उसका लंड अभी भी उसी तरह तैयार था और पूरा खड़ा था।

कोई 10 मिनट में मेरी पीठ पर चुंबन करने के बाद, उसने मुझे बिस्तर पर उल्टा लटका दिया और मेरे पालतू जानवर के नीचे तकिया रख दिया, जिसने मेरी गांड का छेद उसके लंड की निशानी पे आ गया।

उसने अपने लंड और मेरे छेद पे तेल लगाना शुरू किया और मैं जो अभी तक उसके लंड की मोटाई से डर रहा था, मैंने उसको बताया-

मैं: मैंने 2 साल से लंड नहीं अंदर लिया है, तो आराम से करना।

लेकिन उस समय वो मेरी नहीं सुन रहा था, क्योंकि उसकी एक टाइट गांड अपनी सामने नज़र आ रही थी।

उसने लंड मेरे छेद पे रखा और मेरे मुँह पर हाथ रख कर एक ज़ोर का झटका दिया। मुझे तो लगा, कि मेरी गांड फट गई और मेरी तकलीफ से आवाज़ निकल गई।

लेकिन उसके मुंह पर हाथ रखे जाने की वजह से आवाज बाहर नहीं गई।

एक झटका मारने की बाद वो कुछ देर इंतजार कर रहा था, ताकि मेरा दर्द कम हो जाए।

कुछ वक्त बाद तक मेरी गांड से खून भी निकलना शुरू हो गया था। कोई 2 मिनट बाद जब मैं थोड़ा रिलैक्स हुआ,

तो उसने उसी तरह मेरे मुंह पर हाथ रख कर दूसरा झटका मारा और अब उसका पूरा लंड मेरे अंदर था।

मुझे बहुत दर्द हो रहा था, लेकिन मजा भी आ रहा था। थोड़ी देर इंतज़ार के बाद,

उसने लंड को आहिस्ता-आहिस्ता अंदर-बाहर करना शुरू कर दिया और पीछे से मेरे ऊपर लेट गया।

( Gand Marwane Ki Chahat )

उसके वजन से मुझे एक अलग ही लुत्फ आ रहा था और अब तक गांड भी खुल चुकी थी।

तो मैं भी उसके लंड के झटके बर्दाश्त कर रहा था।

क्योंकि वो एक दफा कम निकल चुका था, तो उसका स्टैमिना बहुत ज्यादा हो गया था। कोई 10 मिनट मुझे आहिस्ता-आहिस्ता चोदने की बाद, उसने मुझे सीधा होने का बोला।

जब मैं सीधा लेट गया, तो उसने मेरी तांगे अपने कंधों पर रख ली और मेरी गांड में एक ही झटका से पूरा लंड डाल दिया।

फ़िर वो अपने हाथ मेरे स्तनों पर रख के तेज़-तेज़ चुदाई करने लगा।

मैंने इतनी तेज-तेज चुदाई कभी नहीं करवाई थी, तो मुझे बहुत मजा आ रहा था।

अब तक गांड से खून निकालना भी रुक चुका था। कोई 5 मिनट तेज़-तेज़ चोदने के बाद, उसने मुझे कुतिया बनने का बोला।

मैं डॉगी स्टाइल में गया, तो उसने मेरी गांड पर थप्पड़ लगाना शुरू कर दिया।

इसे मुझे बहुत मजा आया और मैं उसको और ज़ोर से थप्पड़ लगाने को कहने लगा।

जब मेरी गांड सुर्ख लाल हो गई, तो उसने अपना लंड दोबारा से मेरे अंदर डाल दिया।

अब वो एक तरफ तो मुझे झटके दे रहा था और दूसरी तरफ एक हाथ से मेरा लंड हिला रहा था। वो दूसरे हाथ से मेरे बाल खींच रहा था।

अभी कुछ ही देर में उसने मुझे चोदा था, कि मेरा पानी निकलने वाला हो गया। मैंने उसको कहा, तो उसने कहा निकाल दो।

उसका लंड मेरी गांड में ही था और मेरा वीर्य निकल गया और उसकी भी आह आह की आवाज आई।

क्योंकि मेरे वीर्य निकलने से मेरी गांड उसका लंड पे तंग हो गई थी, जिसे उसको बहुत मजा आया।

मेरा पानी निकलने के बाद, उसने पूरे ज़ोर से मुझे झटके देना शुरू किया और मेरे कान को काटने लगा।

कोई 3 मिनट जोरदार झटके देने के बाद, उसने अपने लंड का पूरा पानी मेरी गांड में खाली कर दिया और मेरे ऊपर ही लेट गया।

इसके बाद उठ कर वो बाथरूम गया, लेकिन ये रात अभी हिंदी गे सेक्स कहानी नहीं हुई थी।

इसके बाद क्या-क्या हुआ, वो सब जान-ने के लिए अगले हिस्से का इंतज़ार करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Delhi Escorts

This will close in 0 seconds