July 16, 2024
mama Ne threesome sex Kiya

हेलो दोस्तो, मेरा नाम तानिया है, और मेरी उमर 19 है। मैं उदयपुर से हूं. अगर कोई उदयपुर से है, और अगर लेस्बियन सेक्स में दिलचस्पी है, तो मेल करके फीडबैक जरूर देना। पिछली कहानी पर कोई फीडबैक ही नहीं मिला है, तो इस कहानी पर फीडबैक जरूर देना।

पिछली कहानी में आपने पढ़ा के कैसे मैंने और रिया ने जोरदार, जम कर लेस्बियन सेक्स किया। और मैंने कैसे रिया की चूत फाड़ के पानी निकाल दिया। अब इस कहानी में पढ़ें कि कैसे मामा ने हम दोनों को सेक्स करते पकड़ा, और फिर हमारे साथ मामा ने थ्रीसम सेक्स किया और हम दोनों की चूत सुजा दी।

फिर मैं और रिया बिस्तार पर कुछ देर तक और बातें करने लगे। हम किस भी कर रहे थे.

मैं: रिया तेरी चूत बहुत सेक्सी है. मजा ही आ गया. मामी की चूत भी ऐसी ही है क्या?

रिया: चुप कर रंडी, वो तेरी मामी है।

मैं: चल मामी नहीं तो मामा का ही बता दे। उनके लंड के बारे में.

रिया: माँ का लंड तो बड़ा ही होगा ना?

मैं: हम्म कोई नहीं. तुझे माँ के लंड से चुदते देखने का मन हो रहा है। कैसे रंडी की तरह चुड़ेगी, तुझे मजा ही आ जाएगा।

फिर मैं बाथरूम नहाने चली गई. पीछे से रिया भी आई और बाथरूम में भी हमने शॉवर में सेक्स किया।

रिया: अभी तक मन नहीं भरा तेरी छिनाल? एक नंबर की चुदक्कड़ है तू. कितना चुनोगे? चूज़-चूस के सारे रस निकल देगी क्या? छोड़ भी दे ना अब, बहुत देर हो रही है। जान लेगी क्या छिनाल मादरचोद?

मैं: मेरा बस चले तो इसे काट के ले जाउ मेरी रंडी बहन। तू एक नंबर की रंडी है. कुत्ते की तरह चोदती तुझे अगर मेरे पास लंड होता तो।

रिया: आह्ह तानिया धीरे-धीरे करो. भागी नहीं जा रही हूं मैं. धीरे कर कुटिया.

फिर हम दोनों ने ऐसा ही मज़ेदार सेक्स किया, और आ कर बिस्तर पर सो गए। फिर जब मेरी सुबह आंखें खुली, तो रिया वहां नहीं थी। वो उठ कर बाथरूम में फ्रेश होने चली गई थी। मैं फिर थोड़ी देर सो गई, और फिर रिया आई और बोली-

रिया: उठ ना छिनाल, कितनी सो रही है? अब उठ भी जा मेरी बहन.

मैं: तूने जो हाथ डाला था, वो अब जाके दुख रहा है। आज रात तेरी चूत और गांड में दोनों हाथ डाल दूंगी। फिर पता चलेगा तुझे दर्द किया होगा मादरचोद. रंडी कहीं की.

फिर मैं भी उठ कर फ्रेश होने चली गई। और जा कर मामा और मामी को प्रणाम किया। फिर हम दोनों नाश्ता करने बैठ गए। नाश्ता करने के बाद फिर हम दोनों घर का काम करने लगे, और मामा जी खेत में चले गए उनका काम करने के लिए।

हम दोनों और मामी ने पूरे घर का काम करीब 12 बजे तक पूरा किया, और फिर हम तैयार हो गईं बाहर घूमने जाने के लिए। हम बाहर गए, और यहीं-वहा घूमने लगी। बहुत देर घूमने के बाद हम करीब 2 बजे के बाद घर वापस आये। तब ममी तय्यार हो रही थी. लगता है कहीं बाहर जा रही थी।

मामी ने कहा: मैं दूसरे गांव जा रही हूं। अब मैं रात को आउंगी.

ये सुनते ही हम खुश हो गए, क्योंकि रात तक हमें डिस्टर्ब करने वाला कोई नहीं था। मैं जी भर के रिया की चूत चाट सकती थी, और रिया से मेरी गांड चटवा सकती थी। फ़िर मामी निकल गई गाँव के लिए। और बोल के गई-

मामी: खाना तयार है, खा लेना.

फ़िर हम दोनो ताज़ा रंग, और खाना खाने बैठ गये। खाना बड़ा ही स्वादिष्ट था. खाने में मजा ही आ गया. पर खाने से ज्यादा स्वादिष्ट तो रिया थी। हमने जल्दी-जल्दी खाना खाया, और थाली और बर्तन धोने चली गई।

(लेस्बियन लड़की बेफिकर हो कर मैसेज कर सकती है, और अभी तक जिसकी चूत गीली हो चुकी है और लंड खड़ा हो चुका है, वो मुझे फीडबैक जरूर देना)।

हम व्यापारी ढो ही रहे थे, कि मामा जी भी आ गए। हम थोड़ा शॉक हो गए कि मामा जी दोपहर में कैसे आ गए। क्योंकि मामा जी जब खेत में जाते हैं, तो सीधी रात को ही लौट आते हैं। पर खैर आ गये तो आ गये।

फिर हमने मामा जी को खाना दिया, और वो खाना खा कर चले गये। अब पूरे घर पर मैं और रिया अकेली थीं। रिया किचन में कुछ काम कर रही थी। मैं पीछे से गई, और रिया को ज़ोर से पकड़ लिया। वो डर गई. फ़िर मैं उसके कानों को किस करने लगी।

मैं: आह रिया आह, पूरा दिन तेरा रस पियूंगी.

और उसके स्तनों को दबाने लगी। क्या बड़े-बड़े स्तन थे आह.

रिया: छोड़ ना यार, काम करने दे।

मैं: चुप कर छिनाल रंडी. आज तुझे नहीं छोड़ूंगी. तेरी चुचियों का सारा दूध निकाल कर उसकी चाय बनाउंगी।

रिया: आह्ह्ह्ह मादरचोद, ऐसे ही कर. और कर मेरी छिनाल बहन. बड़ी मादरचोद बहन है. पहले क्यों नहीं मिली तू मुझे? अब तक क्या थी रंडी?

मैं: हां यार, हम पहले क्यों नहीं मिले? लेकिन कोई नहीं, अब मिलेंगे तो छोड़ेंगे नहीं।

और हम ऐसे ही एक दूसरे को सहलने लगी। एक-दूसरे को किस करने लगे।

रिया: आह्ह्ह ओह्ह्ह तानिया किस में यार, प्लीज़ किस मी। चूस लो मेरे होठों को यार, किस में ना।

हम ऐसे ही रोमांस कर रहे हैं। पर मामा जी कुछ भूल गए घर से खेत में कुछ ले जाना, और इसीलिये वो वापस आये घर पर। वो जिस चीज़ के लिए आये, वो घर के पीछे पड़ी थी। फिर वहा लेने गए. इधर हमारा रोमांस चल रहा था। हम दोनों सिर्फ पैंटी में थे, और हमने सारे कपड़े उतार दिये थे।

मैं पैंटी के ऊपर से रिया की चूत मसल रही थी, और रिया सिस्कारियां निकाल रही थी। यहीं सिस्कारियां मामा जी को सुन गई। और वो खिड़की में से देखने लगे। फिर जब मामा जी ने हम दोनों एक-दूसरे के साथ रोमांस करते देखा, तो वो शॉक हो गए।

पर हम हमारे काम में लगे हुए थे. फिर धीरे-धीरे मामा जी को भी मजा आने लगा। वो बाहर खड़े-खड़े अपना लंड हिलाने लगे, और देख रहे थे कि उनकी बेटी कितनी बड़ी चुदक्कड़ थी।

मामा जी अपनी मुठ मार रहे थे। फ़िर मामा जी आगे से दरवाज़ा खोल कर एक दम से अंदर आ गये। हम दोनो डर गये, और अपने आप को अपने हाथों से छुपाने लगी।

आगे की कहानी अगले भाग में, मामा जी ने हमें कुतिया की तरह कैसे चोदा।

इस मामा ने थ्रीसम सेक्स किया कहानी का फीडबैक आप Readxstories.com की आईडी पर दे सकते हैं, और कोई लेस्बियन है अहमदाबाद में, और सेक्स चैट करना चाहती हो, तो ये आईडी पर मेल कर सकती है। दोस्तों अगली कहानी के लिए फीडबैक जरूर देना। अलविदा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Delhi Escort

This will close in 0 seconds