June 25, 2024
shemale ke sath chudai

हेलो मेरे दोस्तों, कैसे हैं आप सब, मेरा नाम टीनू है और मैं आज फिर से अपनी एक Shemale Ke Sath Chudai कहानी लेकर आपके सामने हाजिर हूं और इस बार मेरी कहानी में आपको कुछ नया मिलने वाला है।

दोस्तो, आप तो जानते ही हैं कि मैं दिल्ली से हूँ और हमेशा प्यार की बातें करता हूँ।

तो दोस्तों आज भी मेरी ये कहानी प्यार पर आधारित है. दोस्तो, मैं अक्सर अपना समय नॉएडा में बिताता हूँ क्योंकि मेरे माता-पिता वहीं रहते हैं और मेरा काम भी वहीं रहता है।

मैं अपने दादा-दादी से मिलने और उनकी देखभाल के लिए दिल्ली आता रहता हूं। मैं अपने पिता की इकलौती संतान हूं और मेरे दादाजी का भी एक ही बेटा है और वो हैं पापा।

तो आप समझ सकते हैं कि हमारे बीच कितना प्यार है. मुझे अपने परिवार के साथ रहना और उनके साथ मौज-मस्ती करना पसंद है और जब भी मैं काम से फ्री होता हूं तो ऐसा करता हूं।

आपने मेरी चुदाई की बहुत सी कहानियाँ सुनी होंगी और मैं जानती हूँ कि आप सबने मुझे अपना प्यार भी दिया है। तो दोस्तों एक बार फिर से उसी प्यार के लिए तैयार हो जाइये और मेरी नई कहानी का आनंद लीजिये।

दोस्तों मैं वैसे एक बहुत ही अच्छा लड़का रहा हूँ हमेशा से मैंने लड़कियों का कुछ बुरा नहीं किया। जब उनका मन होता था तभी उनकी Bur Chudai था बाकी मुझे कोई मतलब नहीं होता था। इसलिए मैंने सोचा चलो आज फिर से किसी लड़की को पटा लूँगा और उसकी जवानी रस चख लूँगा।

मैं बहुत ध्यान से उस लड़की को ढूंढ रहा था लेकिन वह मुझे नहीं मिल रही थी. इसलिए मुझे गुस्सा भी आ रहा था. मैंने सोचा, अगर नहीं मिल पाया तो कोई बात नहीं, बाद में देख लूंगा.

मैं अपने काम पर वापस आ गया और सब कुछ पहले की तरह चलने लगा। किसी ने मुझसे कुछ नहीं कहा और मुझे इससे कोई फर्क नहीं पड़ा क्योंकि मेरा काम अच्छे से चल रहा था. मेरे पास पैसों की कमी नहीं थी और मुझे बहुत प्यार मिल रहा था.’

लेकिन पता नहीं क्यों मुझे अपनी चूत की चिंता थी. लेकिन मुझे वैसी चूत नहीं चाहिए थी, मुझे एकदम जवान चूत चाहिए थी. क्योंकि मैं तो चूत से खून निकालना चाहता था और चूत को फाड़ देना चाहता था.

तो मैंने सोचा कि अगर ऐसा हुआ तो मजा आएगा. तो मैं आराम से रहने लगा और मुझे चूत के आगे कुछ भी समझ आने लगा. उसके बाद मैंने सोचा कि ठीक है यार कल से फिर से काम शुरू कर दूंगा लेकिन ऐसा कुछ नहीं हो रहा था.

मैं ऐसे ही अपनी जिंदगी जी रहा था लेकिन एक दिन मैं अपनी कार से जा रहा था और मेरी कार खराब हो गई और मुझे ऑटो से जाना पड़ा। मुझे ऑटो में जाना था और मेरी तबीयत बिल्कुल भी ठीक नहीं थी. लेकिन एक बात बहुत अच्छी थी, उस ऑटो में एक आकर्षक लड़की बैठी थी, मैं उसे निहारने लगा।

वो भी मेरी तरफ देख रही थी और मेरी जांघ को धीरे-धीरे सहला रही थी, मैं भी आराम से उसे देख रहा था। मैंने उससे अगले स्टॉप पर उतरने को कहा. वह भी मान गई और मैं जहां उतर रहा था वहीं मेरा ऑफिस था।

कुछ देर बाद हम दोनों झड़ गए और उसके बाद मैंने सोचा कि आज चूत का इंतज़ार खत्म हुआ क्योंकि वो बिल्कुल हीरोइन लग रही थी. अब मुझे मन में लगा कि मेरा काम हो गया.

मैं उसे अपने ऑफिस ले गया और वहां उसे चाय नाश्ता कराया और हम दोनों बातें करने लगे। मैं अपने केबिन से बाहर आया और सबको बताया कि आज काम बंद है, तुम सब चले जाओ, मैं आज कंप्यूटर मेंटेनेंस के लिए नया स्टाफ बुला रहा हूँ। सब लोग चले गये और मुझे भी फिर से शुरू करने का मौका मिल गया।

मैंने अपनी जेब से विगोरा निकालकर खाया और मुझे हल्का सा उत्साह महसूस हुआ। उसके बाद मैंने सोचा कि चलो आज मुझे जो भी चूत चाहिए वो मिल जाएगी, मुझे एक अच्छी लड़की मिल गई है। उसके बाद मैं उसके पास गया और हम दोनों एक दूसरे के करीब बैठ गये. वो मुझे सहलाने लगी तो मैं मदहोश होने लगा.

मैं भी उसे सहलाने लगा और मजा लेने लगा. फिर हम दोनों एक दूसरे के पास आये और किस करने लगे. उसके बाद मैंने सोचा चलो इसकी चूत चोद ही देता हूँ.

लेकिन उससे पहले उसके स्तनों को चूसना ज़रूरी था इसलिए मैं उसके पास गया और उसने टॉप पहना हुआ था जिसे मैंने उतार दिया। उसके बाद मैंने उससे मेरे कपड़े उतारने को कहा.

वो भी मेरे कपड़े उतारने लगी और मुझे सहलाने लगी. मैंने सोचा वाह आज तो मजा आने वाला है. वो मेरे लंड के पास आई और उसे अंडरवियर से बाहर निकाल कर चूसने लगी. मैं उसके स्तन दबा रहा था.

वो बड़े आराम से और मजे से मेरा लंड चूस रही थी. मैं मजे से आआअहह उउउम्म्म्म उउउउउउ उउउउउउउ आआह्ह्ह्ह कर रहा था और वो मेरा लंड चूस रही थी।

मैंने विगोरा खा लिया था इसलिए मेरा वीर्य नहीं निकल रहा था इसलिए मैं आराम से अपना लंड चूस रहा था और वो मेरा लंड चाट और चूस रही थी. मैं बस आआआअहह उउउम्म्म्म उउउम्म्म उउउफ्फु करते हुए उसके मुँह को चोद रहा था।

उसके बाद मैंने सोचा कि चलो इसकी चूत का स्वाद और मजा दोनों लिया जाये. तो मैंने उसे वहीं टेबल पर बैठा दिया और मैं उसके स्तनों को चूसने लगा। दूध चूसने के साथ-साथ मैं उसके पेट और नाभि को भी चूम रहा था. वो भी मेरा साथ दे रही थी.

जब उसके निपल्स पूरी तरह से खड़े हो गये तो वो आअहह ऊऊउम्म्म ऊऊउफ़्फ़ आअहह करते हुए मुझे सहलाने लगी. मैंने सोचा कि अब नीचे जाता हूँ और जैसे ही मैंने उसकी पैंटी उतारी तो मैं हैरान रह गया। वह एक किन्नर था और उसका लिंग बहुत बड़ा नहीं था।

मैंने सोचा कि भाभी मुझे क्या हो गया है और मैं किनारे बैठ गया. लेकिन जब मैंने उसका चेहरा देखा तो मेरे अंदर फिर से कामोत्तेजना जाग उठी और मैंने उसके पास जाकर देखा तो उसका लंड खड़ा हुआ था. उसकी चमड़ी नहीं हटाई गई थी और उसके लिंग से सफेद स्राव निकल रहा था। मैंने उसकी चमड़ी हटाने की कोशिश की लेकिन वह चिल्लाने लगा.

फिर मैंने धीरे से उसकी चमड़ी हटा दी और वो आह्ह उफ़ आह्ह ओह्ह्ह अह्ह्म्म्म ओह्ह्ह करने लगा. मैंने देखा कि उसका लिंग बहुत सुन्दर था और उसका लिंग-मुण्ड एकदम चमक रहा था। मैंने सोचा कि अब कुछ न होने से तो कुछ ही बेहतर है और मैंने उसका छोटा लिंग अपने मुँह में ले लिया और चूसने लगी।

मैं उसके नितम्ब भी दबा रहा था और वो आ उम्म उफ़ आह आह ऊह ऊह कर रहा था। कुछ देर बाद मैंने उसके लंड को पकड़ लिया और जोर जोर से हिलाने लगी और वो आह्ह उम्म ऊऊउफ़ आह्ह करने लगा और उसकी सील टूट गयी. अब वो भी सेक्स का मजा लेने के लिए तैयार था. जब मैंने उससे कहा कि चलो चुदाई शुरू करते हैं तो उसने अपना सिर हिला दिया.

मैंने उसको उल्टा किया और उसकी गांड में लंड पेल दिया और वो कहने लगा निकालो नहीं करो मुझे बहुत दर्द हो रहा है। मैंने उसकी बात नहीं सुनी और धीरे धीरे Gand ki Chudai करने लगा। उसके बाद मैंने थोड़ी सी ताकत लगे और थोडा लंड और अन्दर पेल दिया और वो कहने लगा नहीं करो दर्द हो रहा है।

मुझे गुस्सा आया और मैंने एक झटके में लंड अन्दर कर दिया। वो मरने लगा पर मैंने उसको चोदना चालु रखा। वो थोड़ी देर तक चिल्लाता रहा पर उसके बाद उसने उम्म् ऊउफ़् करना चालु कर दिया। उसके बाद मैंने सोचा चलो अब इसकी गांड के ही अन्दर माल गिराऊंगा।

मैं उसको चोदता रहा और अह् ऊह् करता रहा।

एक घंटे तक मैं उसको चोदता रहा और उसके बाद मैंने उसकी गांड में अपना मुट्ठ पेल दिया। उसके बाद मैंने सोचा इसको फिर से चोदुंगा क्यूंकि मुझे उसका लंड पसंद आ गया था और उससे प्यार हो गया था। अब मैं हर टीम उसके लंड से खेलता हूँ।

ऐसी ही और Hindi Gay Sex Story पढ़ने के लिए हमारी Readxstories.com को सब्सक्राइब करें ताकि आपके पास सबसे पहले नई और सेक्सी कहानिया पहुंच पाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Dehradun Call Girls

This will close in 0 seconds